नन्दकुमार बघेल कुर्मियों की नहीं, कांग्रेस की कर रहे चर्चा

डाॅ मुन्ना कुमार पटेल, शिक्षा वाहिनी समाचार पत्र।

अखिल भारतीय कूर्मि क्षत्रिय महासभा के द्वारा महासभा के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी कौशल किशोर आर्य के मार्गदर्शन एवं नेतृत्व मे बिहार के कुर्मी साथियों में 8 स्थानों पर महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष नन्दकुमार बघेल, राष्ट्रीय महासचिव आरएस कनौजिया समेत अन्य राष्ट्रीय पदाधिकारियों का अभिनंदन सह सफल कुर्मी सम्मेलन आयोजित किया था, जिसमें 17 मार्च 2021 को रक्सौल में भारत -नेपाल कुर्मी सम्मेलन, 18 मार्च को बेतियां के गोनौली धर्मपुर सामुदायिक भवन, 18 मार्च को ही छपरा के सरदार पटेल छात्रावास, 19 मार्च को मुजफ्फरपुर के बखरी स्थित राजलक्ष्मी वाटिका, 20 मार्च को पटना के दारोगा प्रसाद राय पथ स्थित स्वतंत्रता सेनानी भवन, 21 मार्च को रोहतास के सासाराम स्थित सरदार पटेल सेवाश्रम /धर्मशाला, 22 को नालंदा के बिहारशरीफ और 23 मार्च को राजगीर में महासभा के राष्ट्रीय पदाधिकारी गण के अभिनन्दन सह कुर्मी सम्मेलन आयोजित किये गये थे। इन सभी आठों अभिनन्दन सह कुर्मी सम्मेलन में अखिल भारतीय कूर्मि क्षत्रिय महासभा के या आरएस कनौजिया या नन्दकुमार बघेल का 1 रुपये भी नहीं लगा, यह सभी समारोह बिहार के कुर्मी साथियों ने महासभा के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी कूर्मि कौशल किशोर आर्य की सलाह पर अपने घर से खर्च किए। सभी आठों स्थानों पर नन्दकुमार बघेल, आरएस कनौजिया समेत अन्य राष्ट्रीय पदाधिकारियों का अभिनन्दन और स्वागत किया गया था, परन्तु बिहार के कुर्मी समाज को नन्दकुमार बघेल ने सभी समारोहों में दो भागों में बाँटने, महासभा के एकीकरण, कुर्मी समाज के विकास और संगठन की बात नहीं करके कांग्रेस, सोनियां गांधी, प्रियंका गांधी और राहुल गांधी को समर्थन देने के लिए दबाब बनाये की बात करके बिहार के कुर्मियों को बहुत निराश किया है।
जिलाध्यक्ष अखिल भारतीय कूर्मि क्षत्रिय महासभा, छपरा (बिहार)

Related posts

Leave a Comment