श्रीराम काॅलेज के बायोसाइंस विभाग में फ्रेशर पार्टी ‘‘बायोबग्स-2021’’आयोजित, अभिषेक सिंह मिस्टर फ्रेशर व अरिबा मिस फ्रेशर बनी

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। श्रीराम काॅलेज के सभागार में बायोसाइंस विभाग द्वारा ‘‘बायोबग्स-2021’’ नामक फ्रेशर पार्टी 2021 का आयोजन किया गया, जिसमें विद्यार्थियों ने रंगारंग प्रस्तुतियाॅं देकर कार्यक्रम को मनमोहक बनाने के साथ-साथ अपनी उत्कृष्ट प्रतिभा का भी प्रदर्शन किया। इसके अतिरिक्त पूर्व छात्र संघ का भी गठन किया गया। कार्यक्रम का शुभारम्भ श्रीराम ग्रुप आफ कालिजेज के चेयरमैन डा0 एससी कुलश्रेष्ठ, श्रीराम काॅलेज के निदेशक डा0 आदित्य गौतम, श्रीराम काॅलेज की प्राचार्य डा0 प्रेरणा मित्तल, श्रीराम काॅलेज आफ फार्मेसी के निदेशक डा0 गिरेन्द्र गौतम एवं बायोसाइंस के विभागाध्यक्ष डा0 सौरभ जैन द्वारा संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया।
इस अवसर पर विभाग के छात्र-छात्राओं द्वारा विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया, जिनमें एकल नृत्य, युगल नृत्य, समूह नृत्य, लघु नाटिका,  हास्य व्यंग एवं गीत गायन सम्मिलित रहे। सभी विद्यार्थियों ने कार्यक्रम में भरपूर उत्साह के साथ प्रतिभाग किया। कार्यक्रम के प्रतिभागियोें का निर्णायक मंडल द्वारा मिस्टर फ्रेशर अभिषेक सिंह और मिस फ्रेशर अरिबा को चुना गया। मिस्टर माइटी कोन्ड्रीया नादिर तथा मिस माइटी कोन्ड्रीया श्रद्वा गुप्ता रही और मिस्टर डीएनए अवेसम सूर्याकान्त सैनी तथा मिस डीएनए अवेसम फराह रही।


कार्यक्रम की शुरूआत गणेश वन्दना द्वारा की गई। इसके पश्चात् ’’मेरा रंग दे बसंती चोला’’ गीत पर तेजस्वनी द्वारा क्लासिकल नृत्य की प्रस्तुति देकर लोगो को मंत्र मुग्ध कर दिया। इसी कड़ी में अभिषेक एवं अरिबा ने पंजाबी गीतों पर युगल नृत्य की प्रस्तुति देकर सभागार में मौजूद सभी दर्शकों को झूमने पर मजबूर कर दिया। कार्यक्रम में जहाॅ एक ओर विद्यार्थियों ने महिलाओं पर हो रहे अत्याचारों जैसे गम्भीर विषय को समुह नृत्य के माध्यम से प्रस्तुत कर लोगो को झकझोंर दिया वहीं दूसरी ओर एक हास्य नाटिका प्रस्तुत कर सभागार को गुदगुदा दिया। इसी क्रम में स्पर्श द्वारा पाश्चात्य गीत पर एकल नृत्य की प्रस्तुति दी गई। तत्पश्चात सूर्यकान्त द्वारा किसान के किरदार के माध्यम से पृथ्वी एवं पर्यावरण संरक्षण विषय पर एक लघु नाटिका की प्रस्तुति देकर पृथ्वी को हरा-भरा रखने, प्रदूषण एवं गन्दगी से बचाने का संदेश दिया गया। साथ ही पूर्व छात्र संघ का भी गठन किया गया। जिसका उद्देश्य बायोसाइंस के क्षेत्र में भविष्य बनाने के इच्छुक विद्यार्थियों को रोजगार के नये अवसर उपलब्ध कराना एवं सकारात्मक रूप से सही मार्गदिशा उपलब्ध कराना है।
इस अवसर पर मुख्य अतिथि श्रीराम ग्रुप आफ कालिजेज के चेयरमैन डा0 एससी कुलश्रेष्ठ ने कहा कि बायोसाइंस एक ऐसा क्षेत्र है, जिसमें विद्यार्थियों को अपना भविष्य बनाने के लिये किताबी ज्ञान से ज्यादा प्रयोगात्मक रूप से ज्ञान अर्जित करना आवश्यक है। ऐसे में यह आवश्यक है कि विद्यार्थी इस क्षेत्र की गम्भीरता को समझकर अपने भविष्य निर्माण के लिये अग्रसर रहे।

श्रीराम फार्मेसी निदेशक डा0 गिरेन्द्र गौतम ने कहा कि बायोटैक में व्यवसाय के अलावा भी विद्यार्थियों में बहुत से गुणो का भण्डार है। इस कार्यक्रम में प्रतिभागी विद्यार्थियो ने अपनी विलक्षण प्रतिभा का आलौकिक नजारा पेश करते हुए अपने-अपने द्वारा दी गई प्रस्तुतियों से सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया। विद्या के साथ-साथ अन्य गतिविधियों में प्रतिभाग करके बच्चो का मनोबल बढता है तथा आत्म विकास होता है। बायोसाइंस के विभागाध्यक्ष डा0 सौरभ जैन ने बताया कि आज विभाग के छात्र-छात्रायें न केवल महाविद्यालय की सभी गतिविधियों में हृदय से शामिल है, बल्कि अपनी शिक्षा पूर्ण करने के उपरान्त भी विभिन्न क्षेत्रों में अपनी कार्यकुशलता के बल पर विभाग एवं महाविद्यालय का नाम रोशन कर रहे है। जो हमारे लिये गर्व की बात है। इस अवसर पर पूर्व छात्रों के साथ विभाग के टाॅपर छात्रों को प्रतीक चिन्ह देकर पुरस्कृत किया गया। कार्यक्रम का संचालन श्रद्धा गुप्ता एवं अनुज कुमार ने संयुक्त रूप से किया। कार्यक्रम में बायोसाइंस प्रवक्ता डा0 अश्विनी कुमार, विकास त्यागी, अंकित कुमार, सचिन कुमार, रजत धारिवाल, सायमा सैफी, लवि शर्मा, छवि, सैवी वर्मा, डा0 समीक्षा जोशी, दर्शिका, निकुंज आदि का महत्वपूर्ण योगदान रहा।

Related posts

Leave a Comment