महाराष्ट्र व गोवा के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी 25 मार्च को नगर में, पुरातन व मेधावी छात्र-छात्राओं सहित कोरोना योद्धाओं को करेंगे सम्मानित


शि.वा.ब्यूरो, खतौली। महाराष्ट्र व गोवा के राज्यपाल तथा उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी 25 मार्च को नगर में पधारकर श्री कुन्द-कुन्द जैन स्नातकोत्तर महाविद्यालय में आयोजित कार्यक्रम में भाग लेंगे। इस अवसर पर महाविद्यालय के नवनिर्मित भवन का लोकार्पण करने के साथ ही पुरातन व मेधावी छात्र-छात्राओं सहित कोरोना योद्धाओं को सम्मानित भी करेंगे।
महाराष्ट्र व गोवा के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के आगमन के मद्देनजर आज उपजिलाधिकारी इन्द्रकांत द्विवेदी ने महाविद्यालय पहुंचकर मौका-मुआयना किया और तैयारियों का जायजा लेते हुए आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिये। इस दौरान उनके साथ लोक निर्माण विभाग के अधिकारी भी मौजूद रहे। उन्होंने राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी का हेलीकाॅप्टर उतरने के लिए हेलीपैड बनाने की कार्यवाही की। इस दौरान राज्यपाल के कार्यक्रम के मद्देनजर उपजिलाधिकारी व लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों ने श्री कुन्द-कुन्द जैन स्नातकोत्तर महाविद्यालय की प्राचार्य डा.नीतू वशिष्ठ से विचार-विमर्श भी किया।


बता दें कि महाराष्ट्र व गोवा के राज्यपाल तथा उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी यहां लगभग सवा घंटा रूकेंगे। इस दौरान वे महाविद्यालय के नवनिर्मित भवन का लोकार्पण करने के साथ ही महाविद्यालय पूज्य 105 क्षुल्लक श्री गणेश प्रसाद जी वर्णी पुस्तकालय भवन में आयोजित कार्यक्रम में पुरातन व मेधावी छात्र-छात्राओं सहित कोरोना योद्धाओं को सम्मानित भी करेंगे। उन्होंने बताया कि इस अवसर पर केन्द्रीय राज्यमंत्री व क्षेत्रीय सांसद डा.संजीव बालियान बतौर समारोह गौरव, व्यवसायिक शिक्षा व कौशल विकास मिशन के स्वतंत्र प्रभार राज्य मंत्री कपिल देव अग्रवाल सहित क्षेत्रीय विधायक विक्रम सिंह सैनी व विधायक उमेश मलिक भी बतौर विशिष्ट अतिथि कार्यक्रम मौजूद रहेंगे। उन्होंने बताया कि इसके लिए आयोजन समिति का गठन किया गया है, जिसमें संस्था की प्रबन्ध समिति के अध्यक्ष संरक्षक, मुकेश कुमार जैन चेयरमैन, डा. अरविन्द कुमार संयोजक होंगे। इसके साथ ही डा.कमल किशोर, डा.रीना मित्तल, डा.नीरजा गुप्ता, डा.सपना जैन, डा.मनीष कुमार जैन, राजीव कौशिक, डा.नेमचन्द जैन, डा.अर्चना, दीप्ति जैन, डा.विपिन कुमार बंसल, आशीष जैन, डा. शिवानी चैधरी, डा. पूजा सिंह पुण्डीर, स्तुति नागर व डा.अंजू आदि को आयोजन समिति का सदस्य बनाया गया है।

ज्ञात हो कि भगत सिंह कोश्यारी उत्तराखण्ड राज्य के द्वितीय सफल मुख्यमन्त्री तथा उत्तराखण्ड विधानसभा में 2002 से 2007 तक विपक्ष के शीर्ष नेता रह चुके हैं। 31 अगस्त 2019 को उन्हें महाराष्ट्र का राज्यपाल बनाया गया था। भगत सिंह कोश्यारी का जन्म 17 जून 1942 को उत्तराखण्ड के कुमांऊँ क्षेत्र के अल्मोड़ा जिले के एक गॉंव में हुआ था। उन्होंने अपनी प्रारम्भिक शिक्षा अल्मोड़ा में तथा अंग्रेज़ी साहित्य में आचार्य की उपाधि आगरा विश्वविद्यालय से  प्राप्त की है।

Related posts

Leave a Comment