अन्तर्राष्ट्रीय गुर्जर दिवस पर कार्यक्रम आयोजित


शि.वा.ब्यूरो, खतौली। अन्तर्राष्ट्रीय गुर्जर दिवस के अवसर पर गुर्जर समाज व पटेल जागृति सेवा समिति के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित एक कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि चन्दन चौहान ने कहा कि गुर्जर समाज का इतिहास बेहद गौरवशाली रहा है। गुर्जर समाज के राजाओं ने भारतवर्ष पर शताब्दियों तक राज किया है। उन्होंने गुर्जर समाज से सही वक्त पर सही फैसला लेने का आहवान भी किया।
स्थानीय सफेदा रोड स्थित मा.अमरेश गुर्जर के आवास पर आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए उत्तर प्रदेश के पूर्व उपमुख्यमंत्री बाबू नारायण सिंह के पौत्र व कुशल राजनेता संजय सिंह चौहान के पुत्र सपा नेता चन्दन चौहान ने कहा कि गुर्जर समाज के बेहद शक्तिशाली व वैभवशाली सम्राट कनिस्क हमारे आदर्श हैं, हमें उनके बताये रास्ते पर चलना चाहिए। उन्होंने कहा कि आज ही के दिन उनका राज्यरोहण हुआ था, इसलिए 22 मार्च का हर वर्ष अन्तर्राष्ट्रीय गुर्जर दिवस मनाया जाता है। उन्होंने कहा कि गुर्जर समाज मूल रूप से खेतीहर समाज है और हर तरह से सम्पन्न भी है।


बतौर मुख्य वक्ता रामपाल सिंह ने कहा कि सम्राट कनिष्क का राज्य अफगानिस्तान, पेशावर, बेलग्राम और तक्षशिला तक फैला हुआ था। उनके द्वारा चलाये गये सिक्के दुनिया भर में प्रसिद्ध हुए थे। कुलदीप पंवार ने समाज में फैली कुरीतियों और जागरूकता के बारे में विस्तार से बताते हुए कहा कि हमें कुरीतियों से बचना होगा और समाज में जागरूकता के लिए कार्य करना होगा। इस अवसर पर अतिथियों को गुर्जर समाज के इतिहास पर लिखा गया साहित्य भी भेट किया गया।
कार्यक्रम की अध्यक्षता मास्टर सतेन्द्र पाल आर्य व संचालन सुशील गुर्जर ने किया। इस अवसर पर चौ.ईलम सिंह, टेकचन्द वर्मा, बाबा रतन सिंह, भूलेराम, महाराज सिंह, शशि छोकर, विनय कुमार, भारतवीर आर्य, शिवकुमार नम्बरदार, लीलू गुर्जर, प्रहलाद सिंह राणा, सुरेश आर्य, धनपाल सभासद, जयपाल व मनोज गुर्जर सभासद आदि मुख्य रूप से मौजूद रहे।

Related posts

Leave a Comment